सूदखोरों के आतंक से परेशान सीसीएल कर्मी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

Bokaro Thermal. बेरमो अनुमंडल के बोकारो थर्मल थाना क्षेत्र अंतर्गत अरमो पंचायत के हथबजवा जंगल में शुक्रवार को पेड़ से मफलर के सहारे सीसीएलकर्मी प्रकाश गोप (50 वर्ष) का शव झूलता मिला। मृतक सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र अंतर्गत स्वांग वाशरी परियोजना में फोरमैन के पद पर कार्यरत था। गोमिया प्रखंड अंतर्गत गोमिया थाना क्षेत्र के हजारी मोड़ स्थित सीसीएल कॉलोनी में रहता था। वैसे इसी प्रखंड के चतरोचट्टी थाना क्षेत्र के तिसरी का वह निवासी था।

शव से आ रही थी बदबू

पूर्वाह्न में स्थानीय ग्रामीणों ने शव देखा। उसके बाद हो-हल्ला होने पर आस-पास इलाकों से भी लोग जुटने लगे। बोकारो थर्मल थाना की पुलिस भी सूचना के आलोक में पहुंची व शव उतारा गया। शव से काफी बदबू आ रही थी। परिजनों के पहुंचने पर शव की शिनाख्त संभव हो सकी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अनुमंडलीय अस्पताल तेनुघाट भेजा।

7 मार्च से ही गायब था मृतक

प्रकाश गोप बीते 7 मार्च से ही गायब था। बताया जाता है कि एक दिन पहले यानी 6 मार्च को वह ड्यूटी गया था, वहां उसकी हाजिरी भी बनी हुई है। परंतु उसके बाद न तो वह ड्यूटी गया और नहीं घर गया। इस बीच परिजन भी उसकी अपने स्तर से खोजबीन करने में लगे हुए थे।

सूदखोरों से परेशान था मृतक सीसीएल कर्मी

मृतक के पुत्र मौसम गोप ने पुलिस को बताया कि उनके पिता सूदखोरों से परेशान थे। हजारी मोड़ के ही कुछ सूदखोरों ने चंगुल में फंसा लिया था। वेतन का करीब 60 हजार रुपए सूद चुकाने में ही चला जाता था। बावजूद कर्ज कम नहीं हो पा रहा था। ऐसे में जमीन बेचने की बात कर रहे थे व कागजात मांग रहे थे। इंकार किया गया तो कहने लगे की अब आत्महत्या के सिवाय और कोई उपाय नहीं है।मामले में बोकारो थर्मल थाना प्रभारी उमेश कुमार ठाकुर ने कहा कि प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या का ही मामला लगता है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पायेगा। साथ ही मौत के पीछे की वजह का भी पता लगाया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.