राज्यसभा चुनाव: झामुमो प्रत्याशी शिबू सोरेन ने किया नामांकन, कांग्रेस को उम्मीदवार का इंतजार

रांची/दुमका। झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन ने बुधवार को राज्यसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सह मंत्री वित्तमंत्री रामेश्वर उरांव, कांग्रेस विधायक दल के नेता सह मंत्री आलमगीर आलम, कृषि मंत्री बादल, झामुमो के वरिष्ठ नेता और पेयजल स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर समेत अन्य झामुमो व कांग्रेस के विधायक उपस्थित थे। बताया गया है कि शिबू सोरेन 13 मार्च को एक और सेट में पर्चा दाखिल कर सकेंगे। शिबू सोरेन के नामांकन के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और मंत्री रामेश्वर उरांव ने दूसरी सीट पर दावा ठोकते हुए आज ही कांग्रेस आलाकमान द्वारा प्रत्याशी की घोषणा करने की बात कही है।

भाजपा के लिए जीत की राह आसान नहीं: मुख्यमंत्री

नामांकन के मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि गुरुजी का राज्यसभा चुनाव में जीत निश्चित है। हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्यसभा चुनाव भाजपा के लिए आसान नहीं होगा।

शिबू सोरेन आठ बार रह चुके हैं लोकसभा सांसद

झामुमो सुप्रीमो श्री शिबू सोरेन वर्ष 2002 में राज्यसभा के लिए निर्वाचित हो चुके है। वहीं शिबू सोरेन 1980, 1989, 1991, 1996, 2002, 2004, 2009 और 2014 में दुमका संसदीय सीट से लोकसभा के लिए निर्वाचित हो चुके है।

ये रहा सीटों का गणित

81 सदस्यीय झारखंड विधानसभा में अभी एक सीट खाली (हेमंत सोरेन के दुमका सीट से त्यागपत्र देने के कारण) है। मौजूदा समय में झामुमो के 29, कांग्रेस के 16, झाविमो से कांग्रेस में शामिल 2, राजद के एक, राकांपा के अलावा दो निर्दलीय और भाकप-माले विधायक का समर्थन यूपीए को मिलने की संभावना है। इसके बावजूद दोनों सीट जीतने के लिए यूपीए प्रत्याशी को दो-तीन अन्य विधायकों के समर्थन की जरूरत है, यह संख्या निर्दलीय विधायक सरयू राय, अमित यादव और आजसू पार्टी के दो विधायकों से पूरी हो सकती है। दूसरी तरफ भाजपा के 25 विधायक है और बाबूलाल मरांडी के भाजपा में शामिल हो जाने के कारण संख्या 26 पहुंच गई है। इस तरह से भाजपा को भी एक-दो अन्य विधायकों के सहयोग की जरूरत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.