जमशेदपुर:जिस दुष्कर्म को अस्पताल प्रबंधन ने अफवाह बताया था,उसी दुष्कर्म मामले में पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार..

जमशेदपुर. एमजीएम अस्पताल में भर्ती एक महिला मरीज के साथ 5 मार्च की रात दुष्कर्म करने के आरोपी युवक को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटैज से आरोपी की पहचान पीड़िता से कराई। इसके बाद पुलिस ने आरोपी के बारे में जानकारी देने वाले को 10 हजार रुपए देने की घोषणा भी की थी।


एसएसपी ने बताया कि आरोपी का नाम गुड्डू प्रमाणिक है। इसका कोई घर नहीं है, जिस कारण यह सड़क किनारे कहीं भी सो जाता था। ऐसे अपराधी को पकड़ना एक बड़ी चुनौती थी। चोरी के कई मामले में यह पहले भी जेल जा चुका है। अपराधी ने अपना अपराध स्वीकार किया है।साथ 5 मार्च की रात दुष्कर्म करने के आरोपी युवक को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटैज से आरोपी की पहचान पीड़िता से कराई। इसके बाद पुलिस ने आरोपी के बारे में जानकारी देने वाले को 10 हजार रुपए देने की घोषणा भी की थी।

एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि आरोपी का नाम गुड्डू प्रमाणिक है। इसका कोई घर नहीं है, जिस कारण यह सड़क किनारे कहीं भी सो जाता था। ऐसे अपराधी को पकड़ना एक बड़ी चुनौती थी। चोरी के कई मामले में यह पहले भी जेल जा चुका है। अपराधी ने अपना अपराध स्वीकार किया है।

बताते चलें कि एमजीएम अस्पताल में दो महीने से भर्ती 50 साल की महिला से आरोपी ने डरा धमकाकर बेड पर ही दुष्कर्म किया था। घटना के समय वार्ड में दो और महिला मरीज मौजूद थीं। लेकिन डर के कारण कुछ नहीं बोली। घटना के अगले ही दिन अस्पताल प्रबंधन को रो-रोकर इसकी जानकारी दी, इसके बावजूद अस्पताल प्रबंधन ने महिला को डिस्चार्ज करा कर मामले को अफवाह बताकर दबा दिया था।अस्पताल में भर्ती एक मरीज (नदीम) ने भी इस मामले की जानकारी लोगों को देने की कोशिश की लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने पूरा मामला दबा दिया था। मामले का खुलासा उस वक्त हुआ, जब किसी ने सीएम को ट्वीट पर इस जघन्य वारदात की जानकारी दी और उन्होंने कार्रवाई का निर्देश दिया। साकची थाना पुलिस ने पीड़ित को खोजा और उसके बयान पर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.