सुधरिए जनाब!अब से हेलमेट नहीं पहना तो देना होगा दोगुना जुर्माना

सुधरिए जनाब! अब से हेलमेट नहीं पहना तो देना होगा दोगुना जुर्माना

प्रतिदिन समाहरणालय के समीप गुप्त रूप से रखी जाएगी पैनी नजर:- डीटीओ सिमडेगा.

विकास साहू सिमडेगा

सिमडेगा:-सुधरिए जनाब। अब पुराने दिन गए जब बिना हेलमेट के पकड़े जाने पर 200 की पर्ची कटा मुक्ति मिल जाती थी। अब 200 की जगह 1000 देने होंगे। जी हां, जिला परिवहन पदाधिकारी श्री कुंवर सिंह पाहन सड़क सुरक्षा के नियमों के प्रति खासा सख्त हैं।अब से सरकारी कार्यालयों में सीट बेल्ट और हेलमेट समेत सड़क सुरक्षा के नियमों का उल्लंघन करने पर दोगुना जुर्माना देना पड़ेगा साथ ही विभागीय कार्यवाही भी की जाएगी।ऐसा इसलिए क्योंकि अभी हफ्ते दिन पहले ही परिवहन पदाधिकारी ने जिला प्रशासन के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को ट्रैफिक नियम का पूर्ण रूप से पालन करने की हिदायत दी थी। इसका असर मंगलवार को दिखा भी। अधिकांश सरकारी अधिकारियों के चालक उपायुक्त कार्यालय में घुसते समय सीट बेल्ट बांधे हुए थे, तो कर्मचारी भी हेलमेट लगाकर आए। वहीं कर्मचारी इसकी अवहेलना करते दिखे। कुछ बाहरी लोग जो अपने काम से उपायुक्त कार्यालय आए थे, उनके चालक सीट बेल्ट नहीं पहने थे। ऐसे लोगों में बाइक सवार भी थे, जो हेलमेट नहीं पहने थे। एक युवक तो अपना हेलमेट पीछे बैठे अपने मित्र को पकड़ा दिया था। ऐसे कई लोग दिखे, जिन्होंने हेलमेट रखा था, लेकिन पहना नहीं था।इस दौरान कई कर्मचारियों की परिवहन कर्मचारियों से नोकझोंक व मनुहार के नजारे दिखे। बिना हेलमेट पकड़े गए लोग परिवहन पदाधिकारी के समक्ष तरह-तरह के बहाने बनाते व भिड़ते नजर आए। हर किसी ने अपने कार्यालय का हवाला देते हुए निकलने की कोशिश की। लेकिन परिवहन पदाधिकारी ने उलझने वालों को बिना जुर्माना भरे जाने नहीं दिया। बिना हेलमेट धरे गए लोगों में अधिकतर सरकारी कार्यालयों के कर्मचारी थे। उन्होंने रटा-रटाया बहाना बनाया, सर, जाने दीजिए, ऑफिस लेट हो जाएगा। अब से ऐसी गलती नहीं होगी।’ लेकिन परिवहन पदाधिकारी ने स्पष्ट कहा कि बहाना और पैरवी करने वाले चाहे जो भी हों, बिना जुर्माना भरे वे किसी को नहीं छोड़ेंगे। हुआ भी यही परिवहन विभाग के अधिकारियों ने किसी की एक न सुनी, जुर्माना लिया, तभी जाने दिया।जानकारी देते हुए परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि नियमों का उल्लंघन करने वाले सरकारी पदाधिकारियों एवं कर्मियों की सूची उपायुक्त सिमडेगा तथा पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई हेतु प्रतिवेदन अग्रसारित किया गया है।वहीं जिला परिवहन पदाधिकारी ने कर्मियों को कहा कि यातायात नियमों का पालन करते हुए दो पहिये वाहन चालक को हेलमेट एवं चार पहिये वाहन चालकों को सीट बेल्ट का प्रयोग करने का निर्देेश दिया।उन्होंने कहा कि बार-बार यातायत नियमों का उल्लघन करने वाले आम-जन एवं कर्मियों के विरूद्ध दुगूना फाईन की राशि जमा करना होगा। अपने सुरक्षा हेतु जरूरी पहलुओं एवं सेफ्टी किट जैसे वस्तुओं का प्रयोग करें। जांच के दौरान कुल 26 लोगों को सड़क सुरक्षा के नियमों की अवहेलना करते हुए सरकारी कर्मचारियों एवं आम-जन से फाईन की राशि वसूली गई।उन्होंने बताया कि अब प्रति दिन समाहरणालय मुख्य द्वार के समीप गुप्तरूप से सड़क सुरक्षा के मद्देनजर पैनी नजर रखी जाएगी। यातायात नियमों को तोड़ने एवं बिना हेलमेट तथा सीट बेल्ट के कार्यालय आने वाले कर्मियों के ऊपर दुगूनी फाईन की राशि वसूलते हुये सख्त कार्रवाई की जाएगी।वाहन जांच के दौरान प्रखण्ड मुख्यालय से समाहरणालय कार्यालय कार्य हेतु आने वाले प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों को श्री पाहन ने बुलाकर वाहन जांच में शामिल किया।उन्होने सभी बीडीओ को कहा कि आप सभी भी अपने-अपने प्रखण्डों में सड़क सुरक्षा से संबधित जागरूकता फैलाएं एवं हेलमेट, सीट बेल्ट का प्रयोग करते हुए वाहन का प्रयोग करने हेतु आम-जन को जागरूक करें। प्रखण्ड मुख्यालय के सभी सरकारी कार्यालयों के पदाधिकारी एवं कर्मी यातायात नियमों का नियमित पालन करें एवं कार्यालय आने के दौरान हेलमेट एवं सीट बेल्ट का प्रयोग अवश्य करें।वाहन जांच के दौरान सड़क सुरक्षा सेल के आई0टी0 मैनेजर श्री ब्रजेश कुमार ने यातायात नियमों के बारे में पदाधिकारियों, कर्मियों एवं आम-जन को बताया।वाहन जांच के दौरान सड़क सुरक्षा सेल के आई0टी0 मैनेजर श्री ब्रजेश कुमार, आई0टी0 सहायक श्री नितेश कुमार, तकनीकी सहायक अमरजीत कुमार, प्रधान लिपिक सुनील कुमार वर्मा के अलावे अन्य उपस्थित थें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.