राँची स्थित आचार्यकुलम में बाबा रामदेव ने की प्रेसवार्ता,कहा कोरोना को भगाने के लिए योग करें और निरोग रहें–

राँची:आज राँची स्थित आचार्यकुलम में पहली बार पहुंचे रामदेव बाबा नें कहा कि पूरी दुनिया में करीब 1 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं।उन्होंने कहा कि इससे घबरानें की जरूरत है बल्कि बाहर से आये लोंगों पर निगरानी रखनी चाहिए और करीब 10 दिनों तक उनकी जांच होनी चाहिए केवल टेम्प्रेचर जांच से उसकी सही जानकारी नहीं मिल सकती।

उन्होंने कहा कि देश में लोंगों को घबरानें की जरूरत नहीं है उसका वाइरस हवा में नहीं उड़ता है बल्कि कोरोना से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आनें से फैलता है।कोरोना के खौफ से मास्क और सेनेटाइजर की बाज़ार बढ़ गई है। जबकि देश में अभी इसकी जरूरत नहीं है।बाबा ने कहा कोरोना से बचने के लिए भस्त्रिका, कपाल भांति और अनुलोम विलोम जैसे योग करनी चाहिए और गिलोय, तुलसी और हल्दी का इस्तेमाल करना चाहिये।

इस वायरस को ख़त्म करनें में गिलोय काफी प्रभावी है. अगर हम ये सब करते हैं तो कोरोना हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

बाबा ने कहा कि मैंने कोरोना से प्रभावित चाईना को भी योग के फायदे बताएं है और कहा है कि जरूरत हो तो हमें बुलाएं।

योग गुरु बाबा रामदेव

पीएम के होली मिलन समारोह नहीं मनाने के फासले पर कहा कि जो NRI जे संपर्क में नहीं हैं वे जमकर होली खेलें।

कोरोना से मांसाहार बाज़ार पर इफेक्ट पर कहा कि कोरोना में मांसाहार से दूर रहे तो अच्छा है।बाबा ने शाहीन बाग पर कहा कि देश में एक्टिविस्टों की संख्या बढ़ गयी है, आज वैचारिक उन्माद और

वैचारिक आतंकवाद बढ़ा रहे हैं ये बहुत ही खतरनाक है।उन्होंने कहा कि मैं लोंगों से हाथ जोड़कर कहना चाहता हूं कि लोंगों को धर्म के नाम पर लड़ाकर देश को बर्बाद न करें।उन्होनें कहा कि ये देश किसी राजनीतिक पार्टी, व्यक्ति या धर्म की जागीर नहीं है।ये देश संविधान से चलता है, ऐसी ताकतें हैं जो देश को तोड़ने का काम कर रही है।

एक सवाल के जवाब में बोलते हुए कहा कि बीजेपी सरकार आने के बाद इस तरह की घटना बढ़ी है, इसपर उन्होंने कहा कि आज जो देश में हो रहा है उसमें किसी एक को जिम्मेवार नहीं ठहरा सकते, आज वैचारिक उन्माद फैलाया जा रहा है।बाबा रामदेव ने आचार्यकुलम को हिंदुओं का मदरसा कहे जाने पर कहा कि सबसे पहले तो मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है और जहां तक यह बात है तो मैं यह कहना चाहूंगा कि पूरे देश भर में मंदिरों मस्जिदों मदरसों और जितने भी हिंदू धर्म से संचालित स्कूलों में एक साथ छापा मारा जाए और दूसरे समुदाय के लोग गारंटी दे कि वहां कोई आपत्तिजनक सामान नहीं निकलेगा।सारी बाते पत्रकारों के सवाल पर बोल रहे थे बाबा रामदेव, योग गुरु

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.